Friday, 19 May 2017

कहीं तो ज़िन्दगी मिलती हमें तुम

1222  1222  122

कभी करते किसी से प्रीत हम भी
कभी  तो  मुस्कुराते  मीत हम भी
कहीं तो ज़िन्दगी मिलती हमें तुम
जहाँ   में   गुनगुनाते गीत हम भी

रेखा जोशी