Monday, 19 June 2017

पिता


दुनिया की भीड़ में भरे जाने कितने तक्षक
रक्षा करे हमारी हर मोड़ पर  पिता रक्षक
है सिखाता चलना हमे वह जीवन के पथ पर
जीवन की अनजानी राहें पिता मार्गदर्शक

रेखा जोशी