Wednesday, 28 June 2017

बिन तेरे यह ज़िन्दगी वीरानी है

बिन तेरे यह ज़िन्दगी वीरानी है
रह गई अब यह अधूरी कहानी है
,
छाये हो इस कदर जीवन  में मेरे
तेरी यादें ही बस अब  सुहानी है
,
बसी है हमारी जान तुम में प्रियतम
आप से ही ज़िन्दगी में रवानी है
,
ख्यालों में तुम आकर सताया न करो
करते तुम सदा अपनी मनमानी है
,
कैसे बतायें हम हाल ए दिल अपना
क्या कहें जोशी तेरी दीवानी है

रेखा जोशी