Wednesday, 14 March 2018

मुक्तक


मुक्तक

सबकी बात न  माना कर 
सही गलत को जाना कर 
मत   आना   बहकावे  में 
सच  को भी पहचाना कर

रेखा जोशी