Thursday, 30 April 2020

सुबह

सुबह सवेरे खिड़की पर चिड़िया आई
कुहूक  रही  कोयल  बगिया  मुस्कराई 
रंग  बिरंगी   तितली  गीत  गाते   फूल 
खिली  आँगन में  धूप आज  गुनगुनाई

रेखा जोशी 

4 comments: