Wednesday, 27 November 2019

जिंदगी कुछ सवाल हैं तुझसे

जिंदगी कुछ सवाल हैं तुझसे

ऐसी क्या ख़ता हुई जो

सारे जहां का दर्द दिया मुझे

गैरों से क्या गिला शिकवा

अपनों से ही मिला धोखा हमें

हमने तो बिछाये थे राहों पर फूल

फिर कांटों का सिला क्यों मिला हमें

सबसे किया था प्यार हमने

न समझा किसे ने भी हमें

किससे करें शिकायत

कोई भी नहीं हमारा इस जहां में

कोई भी नहीं हमारा इस जहां में

रेखा जोशी

No comments:

Post a Comment