Sunday, 28 March 2021

होली की हार्दिक शुभकामनाएं

उपवन सजा हुआ है अब फूल मुस्कुराएं 

हम  आज  गीत  गाएँ  होली मिल मनाएं

.. 

छाई  बहार मौसम भी है खिला खिला सा

है  रंग छलकते भूलें शिकवे गले लगाएं 

.. 

नीले. हरे   सभी  सुन्दर चेहरे   रंगे  हैं

होली सखी खेलों पिचकारी पिया चलाएँ 

.. 

नाचे सभी मचायें हुड़दंग बहार आई 

भीगा पिया बदन औ मदमस्त हैं हवायें 

रेखा जोशी 



 


Wednesday, 17 March 2021

जीवन सफर

टेढ़े मेढ़े रास्ते, जीवन डगर

पथरीली राहों पर

जीवन सफ़र मुश्किल

कैसे चलें हम

सम्भल के रखना पांव

जिंदगी की राहें आसान नहीं होती

खुशी नहीं गम भी चलें संग संग

जीत नहीं, मिलती हार की ठोकरें भी

हो जाते हैं अपने भी पराये कभी

आंसुओं की होती है यहाँ बरसात भी

कंटीली राहों पर

फूलों की बरसात नहीं होती

जिंदगी की राहें आसान नहीं होती

रेखा जोशी