Tuesday, 8 May 2018

सुरक्षा कवच

है सुरक्षा कवच  ज़िंदगी का
साया सिर पर माँ का
हूँ निर्भय मै
जो है अपार स्नेह
मुझ पर मेरी माँ  का
मिलता बल मुझे
जब हाथों ने उनके
है थामा मेरा हाथ
शत शत नमन भवानी का
जो अवतरित हुई इस धरा पर
लुटाया जिसने स्नेह मुझ पर
प्यारी ममतामई माँ बन कर

रेखा जोशी