Tuesday, 8 December 2015

दया हम माँगते तेरी सदा भगवन यहाँ पर

ख़ुशी  पाई  जहाँ  में  आज  हमने  बंदगी में
खुदा का फ़ज़्ल है जो आप आये ज़िंदगी  में
..
मिले जो तुम हमे हम को  मिला सारा जहाँ अब
करम हम पर नवाज़ा अब खुदा  ने ज़िंदगी में
...
छुपा ली आप की तस्वीर हमने इस  जहाँ  से
नही कोई हमें  अब गम सताये   ज़िंदगी में
....
चलो साजन चलें मिल कर कहीं और' यहाँ से
रहें हम  दूर  दोनों इस जहाँ से ज़िंदगी में
....
दया हम माँगते तेरी सदा भगवन यहाँ पर
सदा रखना कृपा प्रभु तुम यहाँ पे ज़िंदगी में

 रेखा जोशी