Tuesday, 10 May 2016

फैला उजाला अँगना मेरे आने से उसके

नन्ही  परी  के आने से खत्म  हुई तन्हाईयाँ 
गुनगुनाने  लगी गीत मधुर मेरी खामोशियाँ 
फैला  उजाला  अँगना  मेरे  आने  से  उसके 
गूँजने  लगी घर  में मेरे उसकी किलकारियाँ 

रेखा जोशी