Monday, 6 June 2016

लोग इंसानियत भूल जाते है

फूल  की   चाह  में  शूल  पाते है
लोग  इंसानियत  भूल  जाते  है
सत्ता  के गरूर  में अक्सर नेता
जनता  को  यहाँ  धूल  चटाते है 

रेखा जोशी