Wednesday, 8 June 2016

चाँद उतार लाऊँ अंगना अपने

सजन जहाँ में ख़ुशी बाँटें हम तुम
ज़िंदगी मधुर गीत गायें हम तुम
चाँद  उतार  लाऊँ  अंगना  अपने
झूमेंगे मिल  चाँदनी  में हम तुम

रेखा जोशी