Thursday, 2 March 2017

2122. 2122. 2122. 212

आज तुमसे अब हमें कहनी पिया इक बात है
चाँद निकला आसमाँ जागे सजन जज़्बात है
ज़िन्दगी में आप आये मिल गई खुशियाँ हमें
तुम चले आओ यहां साजन सुहानी रात है

रेखा जोशी