Monday, 20 March 2017

दिल विल,प्यार मोहब्बत ,कसमें यह सब दुनियादारी है
कितना  भी रोके हम इसको पर चलन  इसका जारी है
बीता  जाये  पल  पल जीवन  मत  करो बर्बाद इसे तुम
जीवन   जीना   सीखने में   ही   हमारी  समझदारी  है

रेखा जोशी