Wednesday, 14 August 2013

सपनों का भारत

ये तो नही है
सपनों का भारत
देश ये मेरा
………………
जलता मन
कश्मीर में आग
सुलगे देश
……………….
आतंकवाद
का भारत देश में
है बोलबाला
………………
भटक रहा
दर दर ईमान
फलता पाप
……………
हुए पराये
हम भारत वासी
देश अपना