Thursday, 26 January 2017

मापनी ---1222 1222 1222
समान्त --आन
पदान्त ---आँखों पे

रहेगी देश की अब शान आँखों पे
तिरंगे का करें सम्मान आँखों पे

जहाँ में देश चमकेगा सदा भारत
रहेगा देश का अब नाम आँखों पे

करें हम नमन भारत के जवानों को
शहीदों का रखेंगे मान आँखों पे
....
करेंगे खत्म घोटाले सभी मिल कर
रखेंगे देश का अभिमान आँखों पे

मिला कर कदम चलते ही रहेंगे हम
रखेंगे देश की अब आन आँखों पे

रेखा जोशी