Tuesday, 5 January 2016

यहाँ पर दो दिन की ज़िंदगी हमारी

 हम क्या जहान में लाये साथ लेकर
करेंगे  कूच  हम  खाली  हाथ  लेकर
यहाँ  पर दो दिन की ज़िंदगी हमारी
जायेंगे   यहाँ    से    परमार्थ   लेकर

रेखा जोशी