Thursday, 7 July 2016

है लाडो हमारी सब को नचाती

है  लाडो  हमारी  सब को  नचाती
दुपट्टे   से  माँ के खुद  को सजाती
खेलती कूदती घर अँगना बिटिया
कभी रूठती कभी हम को मनाती

रेखा जोशी