Friday, 8 July 2016

घनघोर घिरी घटायें बदरा कारे कारे

रिमझिम बरसता पानी ठंडी पड़े फुहारें
धड़कता मोरा जियरा साजन तुम्हे पुकारे
झूला झूले सखियाँ उड़ उड़ जाये चुनरिया 
घनघोर घिरी घटायें बदरा कारे कारे 

रेखा जोशी