Tuesday, 25 February 2014

जिये जा रहे अब यूँही यादों के सहारे

मिले गम ही गम जाने के बाद तुम्हारे 
लेकिन प्यार को दिल में बसा के तुम्हारे 
छुपा लिया हर गम को मुस्कुराहट में अपनी 
जिये  जा  रहे अब  यूँही  यादों  के सहारे 

रेखा जोशी