Tuesday, 2 May 2017

चाँद ने ली आज अंगड़ाई सजन


याद तेरी हमें पिया आने लगी 
मधुर गीत अब ज़िन्दगी गाने लगी
चाँद ने ली आज अंगड़ाई सजन 
चाँदनी अब  यहाँ मुस्कुराने  लगी 

रेखा जोशी