Wednesday, 3 May 2017

सबसे कर ले प्यार

सबसे करना प्रेम
यही एक
है शाश्वत सत्य
प्रेम ही ईश्वर
प्रेम ही मोक्ष का द्वार
लिया जन्म इस दुनिया मे
प्रेम के लिये
बाँटा प्रेम बुद्ध ने
नीर भर नैनो में
स्नेह का
था बचाया हंस
गोद मे ले उसे
था किया प्यार दुलार
नही मिटती घृणा
घृणा से
है मिट जाती घृणा
प्रेम से
प्रेम का मानव को
दिया ईश्वर ने
वरदान
सबसे करके प्यार
जीवन अपना ले
सँवार

रेखा जोशी