Tuesday, 20 May 2014

प्यार का स्वरूप है तुम्हारी मुस्कुराहट




खिली खिली सी धूप हैतुम्हारी मुस्कुराहट 
ईश्वर  का  ही रूप है तुम्हारी   मुस्कुराहट 
भूल जाते है देख  कर तुम्हे दुनिया को हम 
प्यार  का  स्वरूप  है  तुम्हारी  मुस्कुराहट 

 रेखा जोशी