Wednesday, 11 October 2017

तिरा फिर रूठ जाना और ही था


तिरा फिर रूठ जाना और ही था 
न मिलने का बहाना और ही था 
चले तुम छोड़ कर महफ़िल हमारी
वफ़ा हम को दिखाना और ही था 

रेखा जोशी