Tuesday, 10 October 2017

मंदिर मन

मन मुदित
पर्वत की शृंखला
नीरव घाटी
,
प्रभु दर्शन
शांत वातावरण
मंदिर मन
,
स्नेह निश्छल
दीपक प्रज्ज्वलित
मन उज्ज्वल

रेखा जोशी