Monday, 2 February 2015

उठती हूक सी दिल में देखते ही तुम्हे

न जाने क्यों कभी कभी ऐसे लगता है
जानता  युगों  युगों  से  वैसे  लगता है
उठती हूक सी दिल में  देखते ही तुम्हे
साथी  हो हर  जन्म के जैसे  लगता है

रेखा जोशी