Tuesday, 15 March 2016

धूम मचाने अब यहाँ , आया है मधुमास

फूलों से बगिया खिली ,छाया हर्षोल्लास
धूम मचाने अब यहाँ , आया है मधुमास
आया है मधुमास ,  चलती शीतल पवन
पिया मिलन की आस  ,महकती कलियाँ उपवन
जीवन ले सँवार ,बांटे ख़ुशी मिल सबसे
छाई आज बहार ,  खिली बगिया फूलों से

रेखा जोशी