Wednesday, 2 March 2016

था भरता जो उन्मुक्त उड़ान आसमान पर


ढूँढ  रहा  कपोत अपनी प्रिया का प्रोफाइल
करना  शुरू  कर दिया  उसने  भी मोबाईल
था भरता जो उन्मुक्त उड़ान आसमान पर
देख मशीन को अब करता है  वह समाईल

रेखा जोशी