Wednesday, 17 August 2016

छोटी सी ज़िन्दगी में अरमान बहुत है


कहने को तो ज़िन्दगी  आसान बहुत है
यूँ  तो  यहाँ  जीने  के सामान बहुत है
दर्द  दिल  में छिपा कर जीना नहीं मुमकिन
छोटी सी ज़िन्दगी में अरमान बहुत है

रेखा जोशी