Sunday, 28 August 2016

बैर भाव त्याग कर ले सब से प्यार

छोटा सा जीवन दिन गिनती के चार
बैर भाव  त्याग  कर ले  सब से प्यार
दीन  दुखी  को  अपने  गले  लगा ले
प्रीत   प्रेम  से  तू    जीवन  ले  सँवार

रेखा जोशी