Tuesday, 26 August 2014

खुश थे हम जीवन में अकेले ही


तोड़ कर दिल हमारा गया कोई 
आस जीने की मिटा  गया कोई 
खुश थे हम जीवन में अकेले ही 
अरमान दिल के जगा गया कोई 

रेखा जोशी