Saturday, 2 August 2014

अमृत जैसी मीठी तुम हो


गंगा सी  पावनी तुम हो
लहरों सी रवानी तुम हो
तुम में छुपी बहुमूल्य निधि
अमृत जैसी मीठी तुम हो

रेखा जोशी