Saturday, 5 September 2015

इरादों में दम उनके तन से भले लाचार

इरादों में दम उनके तन से भले लाचार
बदकिस्मत वोह जो उनका नहीं पाते प्यार
चेहरे पर झुरियाँ आँखों से छलकता  नेह
ज़िंदगी के मोड़ पर हैं सम्मान के हक़दार

रेखा जोशी