Sunday, 7 February 2016

टूटते आईने से बिखरते रिश्ते


जीवन   की डोर  से  होते   बँधे   रिश्ते
जीवन  में  निभाये  सच्चे  झूठे  रिश्ते
न समझा कोई भी इन रिश्तों का मोल
टूटते    आईने    से    बिखरते   रिश्ते

रेखा जोशी