Wednesday, 3 February 2016

ज्ञान का दीप जला मन मंदिर में

राम  का  ध्यान  लगा  मन मंदिर  में
कमल ही कमल खिला मन  मंदिर में
भटक रहा   क्यों बन्दे  इधर उधर  तू
ज्ञान  का  दीप  जला  मन  मंदिर  में

 रेखा जोशी