Monday, 13 July 2015

जब से आये हो तुम

बगिया लगी  महकने जब से आये हो तुम 
हम भी लगे चहकने जब से  आये हो तुम 
छा गई है खुशियाँ ही खुशियाँ सब ओर अब
दिल भी लगा बहकने जब से आये हो तुम

रेखा जोशी