Tuesday, 28 July 2015

अपने कर्मों से ही बना मिसाइल मैन

विनम्र श्रद्धांजलि डॉ अब्दुल कलाम जी को 

निश्चय का पक्का करता धमाल था वोह 
ऊर्जा   से   भरा   हुआ   कमाल  था वोह 
अपने  कर्मों  से  ही  बना  मिसाइल मैन 
चला  गया  जो  भारत  का लाल था वोह 

रेखा जोशी