Thursday, 16 July 2015

बहुत रोये सनम तेरे लिये हम यहाँ तन्हा तन्हा


तुझे चाहें सदा साजन यहाँ पर ज़िंदगी में  हम 

न हो हमसे खफा साजन यहाँ पर ज़िंदगी में हम

बहुत रोये सनम तेरे लिये हम यहाँ तन्हा तन्हा 

नही कुछ भी कहा साजन यहाँ पर  ज़िंदगी में हम 

रेखा जोशी