Sunday, 21 December 2014

गाते मधुर गीत पेड़ पौधे

संग संग पवन के 
गाते मधुर गीत पेड़ पौधे 
गूँज  उठते उपवन में 
तराने कुहकती कोयल के 
आज टूट रहे तार 
कटे पेड़ों से बिगड़ा आकार 
आओ मिल लगायें नये पेड़ पौधे 
सूनी धरा में खुशियाँ नई बो दे ,

रेखा जोशी