Saturday, 13 December 2014

ज़िंदगी भर तुम्हारा इंतज़ार कर लूँगा

मै  मुहब्बत  का तुमसे इकरार कर लूँगा
फूल  राह में  बिछा कर इज़हार कर लूँगा
आ कर महका दो मेरे जीवन की बगिया
ज़िंदगी भर  तुम्हारा  इंतज़ार कर  लूँगा

रेखा जोशी