Saturday, 6 June 2015

पथ में न तुम अब छोड़ना साथी मेरे

तुमने  हमें  बहुत  सताया  साथी मेरे
पग  पग  पर  हमे  रुलाया साथी मेरे
नही जी पायेगे फिर भी हम तेरे बिन
पथ में न तुम अब छोड़ना साथी मेरे

रेखा जोशी