Friday, 5 June 2015

रास्ते चाहे भिन्न भिन्न लक्ष्य है एक


भरें जल अनेक मगर वह कूप है एक 
लेते नाम  सभी  मगर वह रब है एक 
राम  अल्ला  ईसा वही एक ओमकार 
रास्ते चाहे भिन्न भिन्न लक्ष्य है एक

रेखा जोशी