Friday, 2 October 2015

तुम मिले साजन हमें रब का इशारा मिल गया


चाह कर तुम को सजन हम को सहारा मिल गया 
ज़िंदगी  में  आप  आये  अब   किनारा मिल गया 
पास   आये   तुम   हमारे   पा   लिया सारा  जहाँ 
तुम मिले  साजन  हमें  रब  का इशारा मिल गया 

रेखा जोशी