Monday, 19 October 2015

क्यों भूल गये ताकत कलम की

कर  रहे  साहित्य  का अपमान
लौटा  कर  तुम अपना सम्मान
क्यों भूल गये ताकत कलम की
है दी  जिसने   तुम  को पहचान

रेखा जोशी