Sunday, 26 October 2014

खिली खिली सी धूप है उसकी प्यारी मुस्कुराहट

बेटी बन इक नन्ही परी मेरे अंगना में आई 
महक उठा घर जब से वो मेरे अंगना में आई 
खिली खिली सी धूप है उसकी प्यारी मुस्कुराहट 
भर दिया उजाला जब से मेरे अंगना में आई 

रेखा जोशी