Wednesday, 15 April 2015

भूख प्यास से बिलख रहे बच्चे

भीगे नयन  देख कर रूखी  धरा
बरखा की आस लिये प्यासी धरा
भूख  प्यास  से बिलख रहे  बच्चे
करुणा  माँ की  पुकारे सूखी धरा

रेखा जोशी