Saturday, 1 November 2014

शब्द भरी गागर से रचना मै लिखता हूँ

पिरो कर  सुंदर  शब्द कविता मै करता हूँ 
गीत कभी  ग़ज़ल शब्द माला से रचता हूँ 
भावनाओं  के  सागर  में  बहता  हुआ  मै 
शब्द  भरी गागर  से रचना  मै लिखता हूँ  

रेखा जोशी