Tuesday, 11 November 2014

खुशबू से उसकी महकने लगा अंगना मेरा

नन्ही परी के आने से खत्म हुई तन्हाईयाँ 
गुनगुनाने लगी गीत अब मेरी खामोशियाँ 
खुशबू से उसकी महकने लगा अंगना मेरा 
गूँजने लगी घर में मेरे उसकी किलकारियाँ 

रेखा जोशी